THOUSANDS OF FREE BLOGGER TEMPLATES ?

Saturday, November 15, 2008

तेरे प्यार में.....

My attempt to write in hindi.....

तेरे प्यार में.....
जस्बात जुबां पर आए कई बार,
सुनाना चाहा तुझे दिल का हाल,
पर कह भी ना सके और चुप रह भी ना पाए।

तेरे प्यार में.....
रुके तेरे चौखट पर कदम कई बार,
तेरे साथ कुछ पल बिताने का आया खयाल,
पर रुक भी ना सके और चल भी ना पाए।

तेरे प्यार में.....
आंखों में आंसू आए कई बार,
तुझसे दूरी के गम ने किया बेकरार,
पर रो भी ना सके और हस भी ना पाए।

तेरे प्यार में.....
टूटा ये दिल कई कई बार,
तेरे प्यार में, ज़िन्दगी से गए हार,
पर मर भी ना सके और जी भी ना पाए।

2 comments:

Priyanka said...

ohh..i loved it mona!! that was so sweet...really!

तेरे प्यार में, ज़िन्दगी से गए हार,
पर मर भी ना सके और जी भी ना पाए।
n last line of each para is so nice n real..

ur hindi poems rock too!! cheers to mona!!

Kartz said...

Beautiful... You can pat yourself on a job well done. That was exquisite...

Peace.

---
Thanks for those drop-ins... Very nice of you to take time to stop by and appreciate. Do visit again.